December 11, 2019
Sirf Char Din Me Pati Ko Dusri Aurat Se Door Karne Ke Upay

Sirf Char Din Me Pati Ko Dusri Aurat Se Door Karne Ke Upay

Sirf Char Din Me Pati Ko Dusri Aurat Se Door Karne Ke Upay , ” Jeevan hai to sukh duhkh bhee hai! kintu bhaag kee jindagee aur masheenee yug mein aam aadamee parijanon ke janjaal mein itana shaanadaar tarah se jakad chooka hai kee khushee to door door koson tak bhee dikhaee nahin detee hai !

Sirf Char Din Me Pati Ko Dusri Aurat Se Door Karne Ke Upay

परेशान व्यक्ति अपनी समस्यायों के समाधान हेतु दर दर भटकता रहता है और प्राय: तथाकथित तांत्रिकों और ढोंगी व छदमवेशी ज्योतिषियों के चक्कर में आकर अपना सर्वस्व गावं बैठता है किन्तु फिर भी उसे समाधान नहीं मिलता !

Pareshaan vyakti apanee samasyaon ke samaadhaan ke lie darra bhatakata rahata hai aur vareeyata: kathit taantrikon aur dhongee aur chhadameshvaree jyotishiyon ke chakkar mein aakar apana sarvasv gaavan baithata hai kintu phir bhee use samaadhaan nahin milata hai !

Sotan Ko Door Karne Ke Upay

जीवन है तो सुख दुःख भी है! किन्तु भागदौड़ की जिंदगी और मशीनी युग में आम आदमी परिशानियों के जंजाल में इतना बुरी तरह से जकड चूका है की सुख तो दूर दूर कोसों तक भी नहीं दिखाई देता !

Jeevan hai to sukh duhkh bhee hai! kintu bhaag kee jindagee aur masheenee yug mein aam aadamee parijanon ke janjaal mein itana shaanadaar tarah se jakad chooka hai kee khushee to door door koson tak bhee dikhaee nahin detee hai!

इस मन्त्र का जाप करने से यह टोटका प्रभाव में आ जायेगा और आपकी सौतन या वह महिला केवल मात्र ७ दिनों में आपके पति से हमेशा हमेशा के लिए दूर हो जाएगी और जीवन में वह कभी भी आपके पति के जीवन में पुनः प्रवेश नहीं कर पायेगी !

सौतन से छुटकारा पाने का उपाय

Is mantr ka jaap karane se yah totaka prabhaav mein aa jaega aur aapakee sautan ya vah mahila keval maatr se dinon mein aapake pati se hamesha hamesha ke lie door ho jaegee aur jeevan mein vah kabhee bhee aapake pati ke jeevan mein punah pravesh nahin kar paegee!

किसी अखंडित भोजपत्र पर शनिवार के दिन लाल चन्दन की स्याही से अपने शत्रु या सौतन का नाम लिखकर उस भोजपत्र को शहद की शीशी में भरकर तथा ढक्कन लगाकर शीशी को किसी कुएं, नदी, तालाब इत्यादि में डाल देंगे अथवा किसी एकांत स्थान में ज़मीन में गाढ़ देंगे और उस स्थल के ऊपर एक मिटटी का दीपक जला कर इस मन्त्र का ५१ बार जाप करें !

Kisee akhandit bhojapatr par shanivaar ke din laal chandan kee syaahee se apane shatru ya sautan ka naam likhakar ki bhojapatr ko hanee kee sheeshee mein bharakar aur daal daalakar sheeshee ko kisee kuen, nadee, taalaab ityaadi mein daal denge ya kisee ek shaant sthaan mein jaayad mein gaade. vil aur us sthal ke oopar ek mitatee ka deepak jala kar is mantr ka 51 baar jaap karen !

ॐ ऐं ह्री ऐं सिद्धये ह्री श्रीं फट स्वः

Om ain hree ain siddhaye hreen shreen phat svaah

प्रिय मित्रो आज का हमारा लेख ऐसी स्त्रियों और महिलाओं के लिए है जिनके पति का किसी अन्य महिला या स्त्री के साथ सम्बन्ध है और उस सम्बन्ध के चलते पति अपनी पत्नी और बच्चों के प्रति बनने वाली ज़िम्मेदारियों को भूल चूका हो अर्थात आज का हमारा विषय जीवन में आने वाली एक ऐसे गंभीर समस्या से है जिससे की पत्नी को न चाहते हुए भी नर्क को भोगना पड़ता है !

Priy mitro aaj ka hamaara lekh aisee striyon aur mahilaon ke lie hai jinake pati ka kisee any mahila ya mahila ke saath sambandh hai aur us sambandh ke chalate pati apanee patnee aur bachchon ke prati banane vaalee zimmedaariyon ko bhool chooka ho arthaat aaj ka hamaara jeevan jeevan mein aane vaalee ek aisee gambheer samasya se jisase kee patnee ko na chaahate hue bhee nark ko bhogana padata hai !

सौतन को पति से दूर करने के उपाय

यदि आप भी ऐसी ही किसी समस्या से जूझ रही है तो आपको चिंता करने की बिलकुल भी आवश्यकता नहीं है क्यूंकि हम आपको ऐसे तांत्रिक और ज्योतिषीय टोटकों के बारे में बतायेगे जिसकी सहायता से आप पति से जीवन से उस स्त्री या महिला को बाहर निकाल पाओगे तो आइये जानते है टोटके के बारे में !

Yadi aap bhee aisee hee kisee samasya se joojh rahee hai to aapako chinta karane kee bilakul bhee aavashyakata nahin hai kyoonki ham aapako aise taantrik aur jyotisheey totakon ke baare mein bataate hain jinakee sahaayata se aap pati se jeevan se us stree ya mahila ko baahar paoge to. aaiye jaanate hai totake ke baare mein!

टोटके को मासिक काल में निषिद्ध माना गया है इसलिए इस टोटके को केवल शुद्धता और स्वच्छता की स्थिति में ही करें

Totake ko maasik kaal mein nishiddh maana gaya hai isalie is totake ko keval Shuddhata aur svachchhata kee sthiti mein hee maana jaata hai.

ॐ सः श्रीं देवदतं कालिकायै वशं कुरु श्रीं फट स्वः

Om sah shreen devadatan kaalikaayai vashan kuru shreen phatah

प्रातः काल सूर्योदय के बाद स्नानादि से निवृत होकर इन सभी गोलियों को बहती नदी में प्रवाहित कर दें! इस टोटके के प्रभाव से आपके पति की बुद्धि में सुधार होगा और आपके पति उस महिला को छोड़ कर सदैव के लिए आपके दास बन जायेंगे !

Praat: kaal sooryoday ke baad snaanaadi se nivrt hokar in sabhee panktiyon ko bahatee nadee mein pravaahit kar den! is totake ke prabhaav se aapake pati kee buddhi mein sudhaar hoga aur aapake pati us mahila ko chhod kar sadaiv ke lie aapake daas ban jaenge!

सौतन एक ऐसा शब्द है जो की हर शादीशुदा महिला के जीवन के लिए एक श्राप जैसा है क्यूंकि यदि किसी विवाहित स्त्री के जीवन में किसी सौतन का प्रवेश हो जाये तो उस विवाहित स्त्री का जीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त सा हो जाता है क्यूंकि उस सौतन के कारण पति का व्यवहार भी अपने बीवी बच्चों के प्रति विपरीत हो जाता है एवं पति अपनी पत्नी से अलगाव करना चाहता है और पति के इस आचरण के कारण पत्नी को बहुत अधिक परिशानियों का सामना करना पड़ता है !

सौतन को मारने का टोटका

Sautan ek aisa shabd hai jo kee har shaadeeshuda mahila ke jeevan ke lie ek shraap jaisa hai kyoonki agar kisee vivaahit stree ke jeevan mein kisee sautan ka pravesh ho jae to us vivaahit stree ka jeevan pooree tarah se ast vyast sa ho jaata hai kyoon ki sautan ke kaaran pati ka vyavahaar bhee apane beevee bachchon ke prati vipareet ho jaata hai aur pati apanee patnee se alagaav karana chaahata hai aur pati ke is aacharan ke kaaran patnee ko bahut adhik par ishchd ka saamana karana padata hai!

विवाहित स्त्री को सर्वप्रथम पति का जूठा पति एकत्रित करना होगा और उसके एक छोटी कटोरी में आटा, काले तिल, गुड़ इत्यादि को मिलकर उस पानी से इस इस आटे को गूंथकर २१ गोलियाँ बना लेवे और उसके बाद इन सभी गोलियों को प्रातः काल ३:१५ बजे पति के सिर से २१ बार घुमाते हुए इस मन्त्र का जाप करें !

पति को सौतन से दूर कैसे करे

Vivaahit stree ko sarvapratham pati ka jootha pati ekatrit karana hoga aur usakee ek chhotee katoree mein aata, kaalee til, gud ityaadi ko milakar us paanee se is aate ko goonthakar 211 goliyaan bana leve aur usake baad in sabhee goliyon ko praatah kaal 3:11 baje pee pati ke sir se 21 baar baar ghumaate hue is mantr ka jaap karen!

यदि आप भी हमारे इस लेख को पढ़ रहे है तो आपके जीवन में भी कोई न कोई सौतन या ऐसी स्त्री जरूर होगी जिसकी वजह से आपके वैवाहिक जीवन को नुक्सान हो रहा है या आपके पति आपको उस दूसरी लड़की या महिला के लिए छोड़ रहे है तो आपको बिलकुल भी चिंता करने की जरुरत नहीं है !

Yadi aap bhee hamaare is lekh ko padh rahe hain to aapakee jindagee mein bhee koee na koee sautan ya aisee stree jaroor hogee jisakee vajah se aapakee vaivaahik jeevan ko nuksaan ho raha hai ya aapake pati aapako us doosaree ladakee ya mahila ke lie chhod rahe hain to aapako bilakul bhee chinta karane kee jaroorat nahin hai !

Pati Ko Vash Me Kaise Kare

क्यूंकि आज हम आपके लिए कुछ ऐसे टोटके लेकर आये है जिनकी सहायता से आप सौतन से छुटकारा पा सकते है तो आइये जानते है सौतन को पति से दूर या अलग करने के टोटकों के बारे मे !

Kyoonki aaj ham aapake lie kuchh aise totake baare mein aaye hai jinakee sahaayata se aap sautan se chhutakaara pa sakate hai to aaiye jaanate hai ki sautan ko pati se door ya alag karane ke totakon ke baare me !

मंत्र – तावीज़  प्राप्त करने के लिए हमे संपर्क करे

Contact Pandit ji +91-9460102605

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *